सम्मान जनक जीवन जीने के लिए सभी का पढ़ा लिखा होना जरूरी

खास ख़बरें

नारनौल, 09 सितंबर (वेब वार्ता)। अंतराष्ट्रीय साक्षरता दिवस के अवसर पर आज गांव बाछौद में अधिवक्ता सुरेश यादव व एसएस सुरेडिया ने बताया कि एक सम्मान जनक जीवन जीने के लिए सभी का पढ़ा लिखा होना जरूरी है। हमारे देश में सरकार द्वारा लोगों को साक्षर बनाने के लिए अनेक अभियान चलाए गए हैं। राजीव गांधी साक्षरता मिशन 1998 मिड डे मील योजना की शुरुआत 1995 में हुई। सर्व शिक्षा अभियान 2001-2002 में शुरू किया गया। प्रौढ़ शिक्षा योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 2015 जैसी अनेक योजनाएं चला रखी है। इस दिवस को मनाने का लक्ष्य विश्व में सभी लोगों को शिक्षित करना है ताकि उनको अपने अधिकारों के बारे में जानकरी हो सके।  इस अवसर पर सोमदत्त पूर्व पंच, कृष्ण कुमार पूर्व पंच, सुमन यादव, शिरोमणि, गीता देवी आदि लोग उपस्थित थे।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें