रोडवेज कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर किया प्रदर्शन

खास ख़बरें

यमुनानगर, 14 अक्टूबर (वेब वार्ता)। रोड़वेज कर्मचारियों ने किलोमीटर स्कीम रद्द करने व अन्य मांगों को लेकर गुरूवार को बस स्टैंड यमुनानगर पर धरना दिया। हरियाणा रोड़वेज वर्कर्स यूनियन संबंधित सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर सैकड़ों कर्मचारियों ने हिस्सा लिया व सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। जिसकी अध्यक्षता डिपो प्रधान नंद लाल काम्बोज ने की।

नंदलाल ने कर्मियों की मांगों को लेकर बताया कि विभाग में सरकारी बसें बढाने, निजीकरण व ठेका प्रथा बंद की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने, ओवरटाइम बंद करने के नाम पर कर्मचारियों का शोषण बंद किया जाना चाहिए। रोड़वेज कर्मचारियों पर आए दिन हो रहे हमले बंद करने व दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की भी मांग की। उन्होंने कहा कि हड़ताल के दौरान किये गए नाजायज निलम्बन, मुकदमे,तबादले,एस्मा व अन्य उत्पीड़न की कार्यवाही वापस लेने व हड़ताल के दौरान के वेतन का भुगतान करने, ठेके पर भर्ती कर्मचारियों को पक्का करने, खाली पदों पर पक्की भर्ती करने, सभी श्रेणियों के खाली पड़े प्रॅमोशनल पदों पर पदोन्नति करने,वेतन विसंगतियां दुर करके सभी भत्तों में बढ़ौतरी करने,सभी कर्मचारियों को 5 हजार रुपये जोखिम भत्ता देने,पांच वर्ष के बकाया बोनस का भुगतान स्थाई नीति बनाकर एक माह के वेतन के बराबर देने,जनवरी 2016 से एरियर सहित एचआरए का भुगतान करने,एनपीएस बंद कर पुरानी पेंशन स्कीम लागू किया जाए। यूनियन नेताओं ने कहा कि केंद्र सरकार व राज्य सरकार की गलत नीतियों के तहत रोडवेज का निजीकरण हो रहा है। सरकार की नीयत व नीति सही है तो किलोमीटर स्कीम के तहत प्राइवेट बसें ठेके पर लेने का इरादा छोड़ दें।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें