योगी सरकार के विज्ञापन में कोलकाता के फ्लाईओवर की तस्वीर, टीएमसी ने ली चुटकी

खास ख़बरें

लखनऊ, 12 सितंबर (वेब वार्ता)। विधानसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की छवि को चमकाने के लिए अखबार के एक पूरे पन्ने पर दिए गए विज्ञापन पर सवाल उठ गए हैं। ये विज्ञापन उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से दिया गया है। इस विज्ञापन को लेकर टीएमसी ने आरोप लगाए हैं कि इसमें इस्तेमाल की गई तस्वीर पश्चिम बंगाल की है। विवाद एक फ्लाईओवर की तस्वीर को लेकर है।

विज्ञापन में तस्वीरों का एक कोलाज बना है। टीएमसी ने कहा है कि इस कोलाज के एक हिस्से में कोलकाता की तस्वीर डाली गई है। ये एक फ्लाईओवर की तस्वीर है जिस पर नीला-सफेद पेंट और उस पर पीली टैक्सियां नजर आ रही हैं। कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने भी फ्लाईओवर को ममता बनर्जी की सरकार द्वारा कोलकाता में बनाया गया फ्लाईओवर बताया है। हाल में बंगाल में भाजपा को टीएमसी से हार मिली थी और अब तस्वीर चुराने जैसे आरोप भाजपा की फजीहत करा सकते हैं।

अभिषेक बनर्जी ने साधा भाजपा पर निशाना

तृणमूल के वरिष्ठ नेता और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने योगी सरकार के विज्ञापन को शेयर करते हुए तीखी टिप्पणी की। अभिषेक बनर्जी ने सोशल मीडिया पर लिखा, ‘योगी आदित्यनाथ के लिए यूपी को बदलने का मतलब है ममता बनर्जी के नेतृत्व में बंगाल में बनाई गई बुनियादी ढांचे की तस्वीरों को चुराना और उन्हें अपने लिए इस्तेमाल करना! ऐसा लगता है कि ‘डबल इंजन मॉडल’ भाजपा के सबसे मजबूत राज्य में बुरी तरह से विफल हो गया है।’

टीएमसी नेता साकेत गोखले ने लिखा, ‘सबसे नीचे बाईं ओर की फोटो कोलकाता की है – मां फ्लाईओवर की। आप इसे जूम करें और आप फ्लाईओवर पर कोलकाता की पीली एंबेसडर टैक्सी भी देख सकते हैं। “ट्रांसफॉर्मिंग यूपी” का अर्थ है भारत भर में अखबारों के विज्ञापनों पर लाखों खर्च करना और कोलकाता के विकास की तस्वीरें चुराना?’

बंगाल में सत्ताधारी पार्टी की शानदार जीत के बाद बीजेपी से तृणमूल में वापसी करने वाले वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय ने इस विज्ञापान के बहाने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी निशाना साधा। वहीं पूरे विवाद के बाद यूपी राज्य के सूचना विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी नवनीत सहगल ने अखबार की ओर से छापे गए माफीनामे को रिट्वीट किया। इस ट्वीट में कहा गया है कि अखबार के मार्केटिंग विभाग की ओर से गलत तस्वीर लगा दी गई थी, इसे हटा लिया गया है।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें