गोविंद बल्लभ पंत की जयंती पर पत्रकार डॉ. जोशी सहित कई लोग सम्मानित

खास ख़बरें

नैनीताल, 10 सितंबर (वेब वार्ता)। उत्तराखंड के एकमात्र भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत की 134वीं जयंती दो वर्ष के अंतराल के बाद नगर में हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। मास्क एवं शारीरिक दूरी के नियमों का यथासंभव पालन करते हुए नगर के मल्लीताल पंत पार्क में हुए आयोजन में अपने क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य कर रहे लोगों को सम्मानित किया गया। वहीं कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एनके जोशी ने विश्वविद्यालय में पं. पंत के नाम पर शोध एवं नवोन्मेश केंद्र स्थापित करने की घोषणा की।

प्रो. जोशी ने बताया कि इस केंद्र में कुमाऊं विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों के साथ ही इंटरमीडिएट स्तर के अन्य छात्रों को भी शोध एवं नए प्रयोग करने के लिए अनुदान भी दिए जाएंगे। कार्यक्रम के दौरान गोमूत्र से कैंसर सहित अन्य असाध्य रोगों की चिकित्सा करने वाले प्रदीप भंडारी, समाजसेवी मुन्नी तिवारी, व्यवसायी कान्हा साह, शिक्षाविद् डॉ. मनोज बिष्ट, पत्रकार डॉ. नवीन जोशी और आरएसएस के जिला प्रचारक मनोज को सम्मानित किया गया।

इससे पूर्व कार्यक्रम की शुभारंभ कुमाऊं मंडल के आयुक्त सुशील कुमार, अपर आयुक्त प्रकाश चंद्र, एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी, सीडीओ डॉ. संदीप तिवारी, एसडीएम प्रतीक जैन, पूर्व विधायक डॉ. नारायण सिंह जंतवाल, पूर्व सांसद डॉ. महेंद्र पाल व भाजपा के प्रदेश महामंत्री सुरेश भट्ट आदि द्वारा पं. पंत की विशाल मूर्ति पर माल्यार्पण तथा उनके जीवनवृत्त पर आधारित चित्रों की स्थानीय अभिलेखागार द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन करने से हुई। भट्ट ने कहा कि पं. पंत को महानता न जन्म से मिली, न ही उन पर थोपी गई, वरन उन्होंने महानता अर्जित की। वे भारत माता के सच्चे सपूत थे। उन्होंने देश आजाद होने से पहले व बाद देशवासियों को देश के लिए जीने का सही सलीका सिखाया।

डॉ. जंतवाल ने पंत के जीवन के कई अनजाने पहलुओं से अवगत कराया। मुख्य संयोजक पूरन मेहरा और गोपाल रावत ने उम्मीद जताई कि उनसे प्रेरणा लेकर उत्तराखंड से और भी भारत रत्न निकलेंगे। इस दौरान जीजीआईसी, एशडेल, सैनिक व सीआरएसटी आदि के छात्र-छात्राओं ने रंगारंग देश भक्ति और कुमाऊंनी लोकगीत प्रस्तुत किए। कार्यक्रम की शुरुआत और समापन राष्ट्रगीत व राष्ट्रगान से हुआ। सभी बच्चों को आयोजकों की ओर से उपहार एवं मिष्ठान्न वितरित किए गए।

कार्यक्रम में पूर्व विधायक सरिता आर्य, पूर्व पालिकाध्यक्ष श्याम नारायण व संजय कुमार संजू, पालिका सभासद निर्मला चंद्रा, प्रेमा अधिकारी, गजाला कमाल, रेखा आर्या, राजू टांक, सागर आर्या, भगवत रावत, सपना बिष्ट, पुष्कर बोरा, मोहन नेगी व सुरेश चंद्र, मोहन बिष्ट, ललित भट्ट, रईश भाई, बिमला अधिकारी, पीजी शिथर, डॉ. सतपाल बिष्ट, डॉ. महेंद्र राणा, केएल आर्या, अभिषेक मेहरा, विश्वकेतु वैद्य, आनंद बिष्ट, अरविंद पडियार, कलावती असवाल व मीनू बुधलाकोटी सहित अनेक लोगों ने योगदान दिया। संचालन नवीन पांडे व हेमंत बिष्ट ने किया।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें