उत्तराखंड में गांरटी दे रहे है ,दिल्ली में वायदे करके मुकर गए : अनिल चौधरी

खास ख़बरें

नई दिल्ली, 20 सितंबर (वेब वार्ता)। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार ने कहा कि आम आदमी पार्टी के मुखिया दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल द्वारा आगामी विधानसभा चुनाव के लिए देवभूमि उत्तराखंड में अपना राजनीतिक स्वार्थ साधने के लिए 6 गांरटी कार्यक्रमों को लागू करने के झूठे वायदे उत्तराखंड वासियों को दिल्ली वालों की भांति धोखा देने की आधारशिला रखने का काम कर रहे है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने यह बयान प्रदेश कार्यालय राजीव भवन में दिया जिसमें प्रदेश उपाध्यक्ष शिवानी चौपड़ा भी मौजूद थीं। संवाददाताओं को सम्बोधित करते हुए अनिल कुमार ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल द्वारा उत्तराखंड में हर घर रोजगार गारंटी की घोषणा पर स्वतः ही प्रश्नचिन्ह लग जाता है क्योंकि आम आदमी पार्टी के घोषणा पत्र में 8 लाख युवाओं को रोजगार देने का वायदा किया था, जबकि आर.टी.आई. के अनुसार दिल्ली में 7 वर्षों के शासन में केवल 440 नौकरियां रोजगार विभाग ने दी। चौ. अनिल कुमार ने कहा कि झूठे वायदे करने वाले केजरीवाल ने उत्तराखंड में पलायन रोकने के लिए रोजगार व पलायन मंत्रालय का गठन करने की बात कर रहे है लेकिन दिल्ली सरकार में रोजगार व्यवस्थित करने वाले रोजगार कार्यालय में खुद 84 प्रतिशत पद रिक्त पड़े है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल बताऐं कि दिल्ली में 440 युवाओं में से कितने उत्तराखंड के युवाओं को रोजगार दिया गया?

अनिल कुमार ने केजरीवाल पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उत्तराखंड में प्राईवेट सेक्टर में नौकरियां के लिए जॉब पोर्टल का वायदा करने वाले केजरीवाल ने दिल्ली में युवाओं को कोविड काल में प्राईवेट संस्थाओं में नौकरी दिलाने के लिए करोड़ो रुपये खर्च करके जॉब पोर्टल शुरु किया जिसमें 13,27,061 युवाओं के आवेदन करने के बावजूद (0.03 फीसदी) सिर्फ 3896 युवाओं को रोजगार दिया गया है। चौ. अनिल कुमार ने उतराखंड के युवाओं को केजरीवाल द्वारा प्रतिमाह 5 हजार रुपये देने के वायदे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि दिल्ली के युवाओं को रोजगार देने का वायदा करने के बाद कितने बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता दिया है, जबकि दिल्ली कांग्रेस ने कोविड काल में मुख्यमंत्री से इसकी मांग भी की थी। चौ. अनिल कुमार ने मांग की कि मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल जॉब पोर्टल पर आवेदन करने वाले 13,27,061 बेरोजगार युवाओं को तुरंत प्रभाव से 7000 रुपये प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता देना शुरु करें।

अनिल कुमार ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली वासियों को 2020 के चुनाव में 10 गांरटी दी थी परंतु दिल्ली सरकार ने एक भी गांरटी कार्यक्रम को पूरा नही किया है। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव होने वाले राज्यों में अरविन्द केजरीवाल अपनी राजनीतिक स्वार्थ और उदेश्यों की पूर्ति के लिए कभी भी यू-टर्न करने से नही चूकते। उन्होंने कहा कि क्या केजरीवाल ने दिल्लीवालों से किए गए वायदों जहां झुग्गी वहीं मकान, प्रदूषण मुक्त दिल्ली का वायदा, भ्रष्टाचार मुक्त पारदर्शी प्रशासन, स्वच्छ यमुना, महिला सुरक्षा, अत्याधुनिक अस्पताल/स्वास्थ्य सेवाऐं, विश्व स्तरीय शिक्षा मुहैया देने का वायदा, 24 घंटे पीने का शुद्ध पानी सहित पहले कार्यकाल में 8 लाख रोजगार देने के वायदों की सच्चाई किसी भी राज्य की जनता को बताने की हिम्मत कर सकते हैं?

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें