सम्पत्ति आईडी पंजीकरण को प्राथमिकता के आधार पर पूरा करें अधिकारी : मंडलायुक्त पंकज यादव

खास ख़बरें

स्वामित्व योजना के लाभ से लोगों को कराये अवगत

उपलब्ध संसाधनों का सदुपयोग कर पंजीकरण कार्य को निपटाये

स्वामित्व योजना सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना

लाल डोरा के अन्दर की सम्पत्तियों का मिलेगा मालिकाना कानूनी दस्तावेज

रोहतक, 09 सितंबर (वेब वार्ता)। मंडलायुक्त पंकज यादव ने कहा कि स्वामित्व योजना के तहत सम्पत्ति आईडी के पंजीकरण कार्य को संबंधित अधिकारी प्राथमिकता के आधार पर पूरा करें। उपलब्ध संसाधनों का सदुपयोग करते हुए सम्पत्ति आईडी पंजीकरण के लक्ष्य को पूरा करें। लोगों को इस योजना के लाभ के बारे में जागरूक करें ताकि वे स्वयं अपनी ऐसी सम्पत्तियों के पंजीकरण के लिए आगे आये। यह योजना लोगों के हित के लिए शुरू की गई है।

मंडलायुक्त पंकज यादव स्थानीय सर्किट हाऊस में मंडल स्तरीय समीक्षा बैठक में स्वामित्व योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा के दौरान संबंधित अधिकारियों को दिशानिर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि स्वामित्व योजना सरकार की महत्वकांक्षी योजना है। इस अनूठी योजना के तहत लाल डोरा की भूमि की सम्पत्तियों की आईडी का पंजीकरण किया जा रहा है ताकि लोगों को अपनी सम्पत्ति का कानूनी दस्तावेज प्राप्त हो सके। इस योजना से लाल डोरा की भूमि से संबंधित विवादों में कमी आयेगी तथा सम्पत्ति के मालिक इस दस्तावेज के आधार पर बैंकों से ऋण आदि प्राप्त कर सकेंगे।

मंडलायुक्त ने कहा कि स्वामित्व योजना के तहत लाल डोरा के अन्दर की सभी सम्पत्तियों का पूरा रिकॉर्ड होगा। इन सम्पत्तियों के आईडी पंजीकरण से इनके मालिक कानूनी रूप से इन सम्पत्तियों की खरीद-फरोख्त कर सकते है तथा विभिन्न कार्यों के लिए बैंकों से ऋण भी प्राप्त कर सकते है। उन्होंने कहा कि रोहतक मंडल के पांचों जिलों के अधिकारी इस योजना के निर्धारित लक्ष्यों के शतप्रतिशत पूरा करें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे इस योजना का लोगों में प्रचार-प्रसार करें ताकि आमजन इस योजना के लाभ के बारे में जागरूक हो सके। पंकज यादव ने कहा कि स्वामित्व योजना के तहत सहमति वाले मामलों को पहले निपटाया जाये। पंजीकरण के कार्य को समय पर पूरा करने के लिए रणनीति बनाकर युद्घ स्तर पर कार्य किया जाये।

चकबंदी एवं भू-अभिलेख विभाग की निदेशक आमना तस्नीम ने कहा कि राजस्व तथा विकास एवं पंचायत विभाग के अधिकारी स्वामित्व योजना के बारे में लोगों को जागरूक करें तथा इस योजना का लाभ उठाने वालों के बारे में उन्हें अवगत करवाये। योजना के तहत सर्वे ऑफ इंडिया द्वारा प्रॉप्रर्टी की आईडी तैयार की जाती है, जिन पर संबंधित व्यक्तियों के हस्ताक्षर के बाद तहसील में पंजीकरण किया जाता है।

उन्होंने कहा कि योजना के लक्ष्य पूरा करने के लिए तहसीलों में इन सम्पत्तियों की आईडी के पंजीकरण की गति को बढाया जाये। उन्होंने कहा कि स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समय-समय पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के साथ इस योजना के क्रियान्वयन पर चर्चा करते है तथा प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा नियमित रूप से इसकी समीक्षा की जा रही है। सम्पत्ति आईडी पंजीकरण के लिए खंड व तहसील स्तर पर लक्ष्य निर्धारित किये जाये तथा इन लक्ष्यों को पूर्ण करने के लिए शनिवार व रविवार को भी कार्य किया जाये।

रोहतक के उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने कहा कि जिला में स्वामित्व योजना के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए निरंतर प्रयास किये जा रहे है। जिला में सम्पत्ति आईडी पंजीकरण के लम्बित कार्य को निपटाने के लिए टीमें गठित की गई है तथा सम्पत्ति आईडी का सत्यापन भी किया जा रहा है। जिला में सम्पत्ति आईडी पंजीकरण की गति को बढ़ाया गया है तथा वर्तमान में लगभग 1200 पंजीकरण हो रहे है, जिससे ओर बढ़ाया जायेगा। जिला में इस कार्य की निगरानी के लिए अतिरिक्त उपायुक्त महेंद्रपाल को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है तथा उपलब्ध संसाधनों का पूरा सदुपयोग किया जा रहा है।

आधुनिक राजस्व रिकॉर्ड कक्ष स्थापित करने की समीक्षा की गई : बैठक में निदेशक आमना तस्नीम ने कहा कि राजस्व रिकॉर्ड के बेहतर रख-रखाव के लिए आधुनिक रिकॉर्ड कक्ष स्थापित किये जा रहे है। इस रिकॉर्ड कक्ष में राजस्व दस्तावेजों को स्कैन करके इनका रिकॉर्ड रखा जायेगा। उन्होंने कहा कि जिला राजस्व अधिकारी को संबंधित दस्तावेज की 20 प्रतिशत हिस्से का स्वयं सत्यापन करना होगा। बैठक में सोनीपत के उपायुक्त ललित सिवाच, भिवानी के उपायुक्त आरएस ढिल्लो, झज्जर के उपायुक्त श्यामलाल पुनिया, रोहतक के अतिरिक्त उपायुक्त महेंद्रपाल, रोहतक की जिला राजस्व अधिकारी पूनम बब्बर, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी रोहताश सहित पांचों जिलों के अन्य उच्चा अधिकारी मौजूद रहे।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें