वायु प्रदूषण रोकने के लिए ग्रेनो को 8 जोन में बांटा

खास ख़बरें

ग्रेटर नोएडा, 12 अक्टूबर (वेब वार्ता)। सर्दियों में वायु प्रदूषण रोकने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने एक्शन प्लान तैयार कर लिया है। ग्रेटर नोएडा को आठ जोन में बांटते हुए जोनल अधिकारी तैनात कर दिए हैं। ऐक्शन प्लान को प्रभावी ढंग से लागू कराने के लिए नोडल अफसर की तैनाती की गई है। इसी विषय पर जानकारी देने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के ऑडिटोरियम में कार्यशाला आयोजित हुई, जिसमें ग्रेनो प्राधिकरण के स्टाफ के अलावा कॉन्ट्रैक्टर व यूपीपीसीबी के अधिकारी शामिल हुए। कार्यशाला में शामिल ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक परियोजना एके अरोड़ा ने बताया कि एनजीटी के नियमों का पालन कराने के लिए प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण के निर्देश पर ग्रेटर नोएडा को आठ जोन में बांटा गया है। हर जोन का एक जोनल अधिकारी नियुक्त किया गया है। सभी आठ जोन से तालमेल बनाने व वायु प्रदूषण रोकने के नियमों को लागू कराने के लिए नोडल अफसर की तैनाती की गई है। उन्होंने बताया कि 20 हजार वर्ग मीटर से बड़े निर्माण साइटों पर एंटी स्मॉग गन शीघ्र लगाए जाएंगे। धूल को रोकने के लिए पानी के छिड़काव किया जाएगा। अतिरिक्त टैंकर के इंतजाम क लिए गए हैं। महाप्रबंधक ने बताया कि सभी जोनल अधिकारी एक्शन रिपोर्ट नियमित रूप से नोडल अधिकारी को भेंजेगे। नोडल अधिकारी रिपोर्ट को सीनियर अफसरों को उपलब्ध कराएंगे। जोनल अधिकारी सभी निर्माण साइटों पर नजर रखेंगे और एनजीटी से सभी तय नियमों का पालन कराएंगे। कार्यशाला में मौजूद उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के ग्रेटर नोएडा के क्षेत्रीय अधिकारी भुवन यादव ने ग्रेनो प्राधिकरण के स्टाफ को बताया कि अगर कहीं कूड़ा दिखे तो उसे तत्काल उठा लें, ताकि उसे जलाया न जाए। कार्यशाला में डीजीएम प्रोजेक्ट केआर वर्मा, आरके ओझा समेत प्रोजेक्ट के सभी अधिकारी व कॉन्ट्रैक्टर, जनस्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी, सैनिटरी इंस्पेक्टर व कॉन्ट्रैक्टर मौजूद रहे।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें