मेट्रो जैसी अग्रणी परिवहन प्रणाली से दिल्ली में लंदन व न्यूयॉर्क जैसा शहर बनने की क्षमता : पुरी

खास ख़बरें

नई दिल्ली, 18 सितंबर (वेब वार्ता)। दिल्ली मेट्रो की ग्रे लाइन के नजफगढ़-ढांसा बस स्टैंड खंड का शनिवार को उद्धाटन किया गया। इसके बाद मेट्रो नजफगढ़ के और अंदरूनी इलाकों तक पहुंच गई है। दिल्ली मेट्रो रेल परिवहन निगम (डीएमआरसी) ने बताया कि केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वीडियो लिंक के जरिए खंड का उद्धाघटन किया। इस मौके पर पुरी ने कहा कि कि देश के विभिन्न शहरों में करीब 740 किलोमीटर की मेट्रो लाइन चालू है और नेटवर्क को 2022 तक तकरीबन 900 किलोमीटर तक बढ़ा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके अलावा, देश के अलग अलग शहरों में एक हजार किलोमीटर की मेट्रो लाइन निर्माणाधीन है और आने वाले वर्षों में इसका विस्तार दो हजार किलोमीटर तक किया जाएगा। पुरी ने कोविड-19 महामारी के बावजूद विभिन्न उपलब्धियों के लिए दिल्ली मेट्रो की सराहना की। उन्होंने कहा कि मेट्रो जैसी अग्रणी परिवहन प्रणाली के साथ, दिल्ली में लंदन, न्यूयॉर्क जैसे विश्व स्तरीय शहर बनने की क्षमता है। बहरहाल, कुछ कारणों की वजह से ग्रे लाइन के करीब एक किलोमीटर लंबे खंड का उद्धाटन करीब एक महीने से देरी से हुआ। इस मौके पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 50 गांव वालों को नजफगढ़ का फिरनी चौक पार करके दिल्ली आना पड़ता था। अब लोगों को चौक क्रॉस नहीं करना होगा। इससे ट्रैफिक जाम नहीं लगेगा। इन सभी गांव वालों को नई लाइन से फायदा होगा। 2015 फरवरी में चुनाव प्रचार के दौरान लोगों की डिमांड थी और सरकार बनने के बाद इस योजना को दिल्ली सरकार ने अप्रूव किया था। केंद्र सरकार के शुक्रगुजार हैं, केंद्र सरकार को खास तौर से धन्यवाद क्योंकि केंद्र ने मेट्रो योजना में दिल्ली के लोगों का सहयोग किया है। डीएमआरसी के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को बताया था कि खंड पर यात्री सेवा शाम पांच शुरू होगी। तकरीबन 4.2 किलोमीटर लंबी ग्रे लाइन (द्वारका-नजफगढ़ गलियारे) के इस विस्तार से नजफगढ़ के आसपास के आंतरिक क्षेत्रों के निवासियों को अत्यधिक लाभ होगा। इस मौके पर केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री कौशल किशोर और दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत भी मौजूद थे। करीब एक किलोमीटर लंबा नजफगढ़-ढांसा बस स्टैंड खंड मेट्रो को नजफगढ़ के आंतरिक क्षेत्रों में ले जाएगा। पहले इस खंड का उद्घाटन छह अगस्त को होना था, लेकिन स्टेशन तक पहुंचने वाली सड़क के मुद्दे के कारण निर्धारित तिथि से दो दिन पहले इसे स्थगित कर दिया गया था। द्वारका-नजफगढ़ गलियारे को अक्टूबर 2019 में खोला गया था।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें