मिर्जापुर नाव हादसा: बच्चे और महिला का शव मिला, चार की तलाश अभी जारी, नाविक पर मुकदमा दर्ज

खास ख़बरें

मिर्जापुर, 09 सितंबर (वेब वार्ता)। मिर्जापुर जिले में बुधवार को हुए नाव हादसे में लापता हुए छह लोगों में से दो का शव दिले फतहां क्षेत्र में गंगा में उताराया मिला है। जिसमें एक बच्चा और महिला शामिल है। बच्चे की पहचान सत्यम के रूप में हुई है। महिला की अभी शिनाख्त नहीं हो पाई है। बाकी लोगों की खोजबीन के लिए गोताखोरों की टीमें लगी हुई हैं। वहीं, इस मामले में नाविक पर मुकदमा दर्ज किया गया है। जिसकी गिरफ्तारी के लिए गांव पहुंची पुलिस तो आरोपी फरार हो चुका था।

ऐसे हुआ हादसा

विंध्याचल कोतवाली क्षेत्र के अखाड़ा घाट पर बुधवार की दोपहर गंगा पार स्नान कर लौटने के दौरान झारखंड के दर्शनार्थियों से भरी नाव पलट गई। इसमें सवार नाविक समेत 14 लोग गंगा नदी में गिर गए। नाव डूबता देख गंगा किनारे मौजूद लोगों ने पुलिस को सूचना दी और गोताखोरों की मदद से झारखंड के पांच श्रद्धालुओं, नाविक, वाहन चालक और एक फोटोग्राफर को बचा लिया तो वहीं छह लोग नदी में लापता हो गए।

ये हादसा नहीं होता अगर नाविक दर्शनार्थियों की बात मान लेता। बारिश होने के दौरान परिजनों के मना करने के बाद भी नाविक का अति उत्साह हादसे वजहों में से एक रहा। हादसे में बचे राजेश, विकास और उमेश ने बताया कि नाविक को तैरना भी नहीं आता था। यही कारण ही कि वह दूसरों को बचाने के बजाय खुद ही बाहर आने के लिए हाथपांव मारने लगा। गंगा में नावों के संचालन पर रोक है। इसके बावजूद नावें चल रही हैं। न तो पुलिस को परवाह है और न जिला प्रशासन को।

झारखंड के रांची और जमशेदपुर से विकास अपने साले राजेश और दीपक अपने जीजा राजेश के साथ दर्शन करने के लिए विंध्याचल आए थे। साथ में तीनों की पत्नियां व बच्चे भी थे। एक परिवार के 11 सदस्य कार से मां विंध्यवासिनी का दर्शन पूजन करने के लिए बुधवार को विंध्याचल पहुंचे। दर्शन पूजन करने से पहले सभी गंगा घाटपर स्नान करने के लिए गए।

पर सवार होकर गंगा पार गए। स्नान करने के बाद सभी नाव से इस पर आ रहे थे कि तभी बारिश के साथ तेज हवा चलने लगी। इस बीच नाव गंगा में पलट गई। जिसमें नाविक समेत सभी 14 लोग गंगा नदी में गिर गए।

गंगा किनारे मौजूद स्थानीय लोगों व गोताखोरों ने गंगा में कूदकर आठ लोगों को बाहर निकाला और पुलिस को सूचना दी। उधर छह लोग गहरे जल में लापता हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस जाल डालकर आसपास के अन्य गोताखोरों को बुलाकर गंगा में डूबे छह लोगों की तलाश में जुटी रही।

लापता लोग

गुड़िया(28) पत्नी विकास, खुशबू(30) पत्नी राजेश, अनीशा(26) पत्नी दीपक, सत्यम(5) पुत्र विकास, शौर्य(3) पुत्र विकास, दीपक का दो माह का पुत्र लापता है। इनमें से सत्यम और एक महिला का शव मिल गया है।

बचाए लोग-

राजेश कुमार तिवारी(35) पुत्र भुवनेश्वर तिवारी घुरवा रांची झारखंड, विकास ओझा(28) पुत्र अमरनाथ ओझा जमशेदपुर, दीपक मिश्रा(27) पुत्र उमेश मिश्रा जमशेदपुर, चालक सुदीप कुमार(38) पुत्र स्व. रमाशंकर बक्सर, अलका(9) पुत्री राजेश, रितिका(7) पुत्री राजेश , नाविक गौतम निषाद(16) पुत्र गुरु निषाद, फोटोग्राफर प्रदीप(20) पुत्र कैलास निषाद।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें