माजुली के संबंध में कांग्रेस अध्यक्ष के बयान की भाजपा ने की निंदा

खास ख़बरें

गुवाहाटी, 10 सितंबर (वेब वार्ता)। ब्रहमपुत्र नद में बुधवार को हुई फेरी दुर्घटना पर प्रदेश कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष भूपेन बोरा द्वारा दिए गए राजनीतिक बयान की भाजपा ने तीखी आलोचना की है। भाजपा के प्रवक्ता लक्ष्य कोंवर ने कहा है कि विश्व के सबसे बड़े नदी द्वीप माजुली से निमाती घाट की ओर जा रही एक फेरी (यंत्र चालित नाव) दुर्घटना के दौरान बुधवार को ब्रह्मपुत्र नद में डूब गयी। इसको लेकर राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी प्रदेश कांग्रेस कमेटी (एपीसीसी) द्वारा राजनीति किया जाना दुर्भाग्यजनक है। खासकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेन बोरा ने इस दुर्घटना तथा माजुली को जोड़ऩे वाले पुल को लेकर एक संवाददाता सम्मेलन में जो बयान दिया, वह बेहद निंदनीय है।

लक्ष्य कोंवर ने एक बयान में इस हादसे को बेहद दुर्भाग्यजनक और अनाकांक्षित करार दिया है। उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री डॉ हिमंत बिस्व सरमा ने इस घटना के लिए दोषियों को दंडित करने तथा अतिरिक्त मुख्य सचिव स्तर की उच्च स्तरीय जांच की घोषणा की है, भाजपा मुख्यमंत्री के इस कदम का स्वागत करती है।

भाजपा नेता ने कहा है कि हादसे के बाद आपदा प्रबंधन विभाग की तत्परता के कारण अधिक व्यक्ति हताहत नहीं हुए तथा स्वयं मुख्यमंत्री ने बचाव व राहत कार्यों का जायजा लिया। ऐसे समय में सत्ता व विपक्ष सभी को एकजुट होकर राज्यवासियों के साथ खड़ा होना एक स्वस्थ गणतंत्र की परंपरा को दिखाना चाहिए। इसके बावजूद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा इस मुद्दे को लेकर राजनीति करना निंदनीय है। साथ ही उन्होंने कहा कि माजुली को जोड़ने वाले पुल का निर्माण भाजपा की प्रतिज्ञा है और इसी सरकार के कार्यकाल में पुल का निर्माण पूरा होगा। राज्य सरकार ने कैबिनेट की बैठक में प्रत्येक माह पुल के निर्माण की समीक्षा करने के लिए वित्त मंत्री अजंता नेउग को दायित्व दिया गया है। इससे सरकार की सदिच्छा दिखाई देती है।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि देश की आजादी के बाद अधिक समय तक सत्ता में कांग्रेस पार्टी रही लेकिन माजुली की यातायात व्यवस्था के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया है। ऐसे में जब भाजपानीत सरकार माजुली वासियों के यातायात की व्यवस्था को बेहतर बनाने में जुटी हुई है तो कांग्रेस पार्टी राज्यवासियों को बरगलाने की कोशिश कर रही है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के कहने के अनुसार महाबाहू ब्रह्मपुत्र एक नाला या छोटी नदी नहीं है कि कुछ खंभे खड़ाकर पुल का निर्माण हो जाएगा। इसके लिए अध्ययन और वैज्ञानिक दृष्टिकोण की आवश्यकता है। वर्तमान में सरकार ने सभी काम पूरा कर लिया है। मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया है कि पुल के निर्माण का काम समयानुसार होगा ताकि माजुली वासियों की समस्या का समाधान हो सके।

भाजपा नेता ने कहा कि केंद्र में 10 वर्ष और राज्य में 15 वर्षों तक शासन करने वाली कांग्रेस पार्टी सदैव ही माजुली के लोगों की अनदेखी करती रही है। कांग्रेस के शासनकाल में बोगीबील पुल के कुछ खंभे ही बनाये गये थे, इसको राज्य की जनता भली भांति जानती है। ऐसे में आम लोग और प्रशासन राहत व बचाव कार्य में जुटे रहने के समय कांग्रेस पार्टी द्वारा हादसे की आलोचना करना दुर्भाग्यजनक है।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें