बसपा तथा कांग्रेस के आधा दर्जन से अधिक पूर्व विधायक व एमएलसी भाजपा में शामिल

खास ख़बरें

लखनऊ, 10 अक्टूबर (वेब वार्ता)। उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की आहट के बीच में नेताओं का पाला बदलने का क्रम जारी है। समाजवादी पार्टी के बाद अब बड़ी संख्या में नेता भाजपा में शामिल हो रहे हैं। भाजपा प्रदेश मुख्यालय में रविवार को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ भाजपा के प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह ने विभिन्न दलों से आने वाले नेताओं को भाजपा की सदस्यता दिलाई।

भाजपा उत्तर प्रदेश के मुख्यालय में रविवार को विभिन्न राजनीतिक दलों के आए 17 नेताओं ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह ने इन सभी को भाजपा की सदस्यता दिलाई। इस अवसर पर स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश तो उत्तम प्रदेश बन रहा है। प्रदेश में चौतरफा विकास होने के साथ ही कानून का राज स्थापित हुआ है। हमारी सरकार के कार्यकाल में सभी योजना का लाभ एक-एक व्यक्ति को मिला है। अब तो लक्ष्य 2024 तक हर गरीब को पक्का मकान का है।

गोरखपुर जिले के सहजनवा और महराजगंज के पनियरा से विधायक रहे पूर्व राज्यमंत्री देव नारायण सिंह उर्फ जीएम सिंह ने बसपा से इस्तीफा देने के बाद नया ठिकाना भाजपा में खोज लिया है। वह भाजपा में शामिल होने का मौका तलाश रहे थे। पूर्व विधायक जीएम सिंह ने बसपा से इस्तीफे की सूचना फेसबुक पर भी शेयर की। इनके साथ ही सहारनपुर नगर से बहुजन समाज पार्टी से विधायक रहे मुकेश दीक्षित भी आज भाजपा में शामिल हो गए।

बहुजन समाज पार्टी से विधान परिषद सदस्य रहे बिजनौर के सुबोध पाराशर पूर्व जिला पंचायत सदस्य रहीं अपनी पत्नी गायत्री पाराशर के साथ भाजपा में शामिल हो गए। कुशीनगर के हाटा से बसपा नेता वीरेन्द्र सिंह सैथवार के साथ ही बाराबंकी के हैदरगढ़ से कांग्रेस के टिकट पर 2012 में चुनाव लड़े आरके चौधरी ने भाजपा ज्वाइन की।

सोनभद्र के दुद्धी से निर्दलीय विधायक रहीं रूबी प्रसाद, हरदोई से बसपा के पूर्व विधायक वीरेन्द्र कुमार पासी, आगरा में बसपा से विधायक रहे सूरज पाल, वाराणसी के रोहनियां से बसपा नेता डॉ.भावना पटेल, बुलंदशहर से राष्ट्रीय लोकदल के नेता वीरेन्द्र सिंह लौर, चौधरी प्रताप सिंह तथा वाराणसी के युवा सपा नेता शुभम गुप्ता ने भाजपा की सदस्यता ली।

भाकियू के मंडल महासचिव राजू अहलावत भाजपा में शामिल

मुजफ्फरनगर से भाकियू के मंडल महासचिव राजू अहलावत ने भाजपा का दामन थाम लिया है। लखनऊ में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दी। भाकियू ने रविवार को अपनी प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा की है, जिसमें राजू अहलावत को शामिल नहीं किया। इससे आहत राजू अहलावत ने भाकियू को अलविदा कहा है। दो वर्ष पहले राजू अहलावत को भाकियू हाईकमान ने जिलाध्यक्ष पद से हटा दिया था। उनके समर्थकों ने इसका विरोध किया था, लेकिन तब राजू अहलावत ने खुलकर कुछ नहीं कहा था। अब प्रदेश कार्यकारिणी में स्थान नहीं मिलने से आहत होकर उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया। जल्द ही उनके समर्थक भी भाजपा में शामिल होंगे।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें