दुनिया के देश जहां पिछड़ गए, वहीं भारत आगे बढ़ रहा है : पीएम मोदी

खास ख़बरें

अहमदाबाद, 11 सितंबर (वेब वार्ता)। सरदारधाम के लोकार्पण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को प्रभावित किया। भारत भी इससे अछूता नहीं रहा, लेकिन इसके बावजूद भारत की अर्थव्यवस्था तेजी से रिकवर कर रही है। दुनिया के देश जहां पिछड़ गए, वहीं भारत आगे बढ़ रहा है।गुजरात के लोगों में एंटरप्रेन्योरशिप का जन्मजात गुण होता है। नेशनल एप्रेंटिशिप स्कीम से युवाओं का कौशल विकास बढ़ाकर आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है। सरदारधाम युवाओं को ग्लोबल प्लेटफॉर्म से जोड़ने के लिए भरपूर प्रयास करता है। गुजरात का हुनर प्रदेश व देश में ही नहीं कोई दुनिया में पहचाना जाने लगा है। गुजरात का युवा कहीं पर भी रहे देश हित उसकी प्राथमिकता होती है।

पाटीदार समाज द्वारा विकसित काम्प्लेक्स ऐसे सभी छात्रों को उचित दर पर प्रशिक्षण और रहने की सुविधा प्रदान करेगा। यहां बेहतर नौकरी के इच्‍छुक ग्रामीण क्षेत्रों के लड़कियों और लड़कों को छात्रावास की सुविधा प्रदान की जाएगी। सरदारधाम शैक्षिक और सामाजिक परिवर्तन, समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान और युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने की दिशा में काम कर रहा है।

पीएम मोदी ने सरदार पटेल के बारडोली सत्याग्रह को याद किया। मोदी ने ज्ञान व कौशल का महत्व बताते हुए कहा इससे आजीविका के लिए चिंता नहीं करनी पड़ती है। पीएम मोदी ने कहा आज 9/11 है, एक ऐसी तारीख जिसे दुनिया के इतिहास में मानवता पर हमले के रूप में याद किया जाता है… लेकिन उसी तारीख ने हमें मानवीय मूल्यों के बारे में भी सिखाया।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा नेशनल एप्रेंटिशिप स्कीम से युवाओं का कौशल विकास बढ़ाकर आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है। इससे बाजार में कुशल लोगों की मांग होगी युवाओं को ग्लोबल वर्ल्ड के लिए तैयार करें। गुजरात के लोगों में एंटरप्रेन्योरशिप का जन्मजात गुण होता है। सरदारधाम युवाओं को ग्लोबल प्लेटफॉर्म से जोड़ने के लिए भरपूर प्रयास करता है। वाइब्रेंट गुजरात निवेशक सम्मेलन इस प्रयास को आगे बढ़ाएगा। गुजरात का हुनर प्रदेश व देश में ही नहीं कोई दुनिया में पहचाना जाने लगा है। गुजरात का युवा कहीं पर भी रहे देश हित उसकी प्राथमिकता होती है।

नितिन पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरदार धाम प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया 200 करोड़ की लागत से छात्र-छात्राओं के लिए एक छात्रावास का निर्माण किया गया। खासतौर पर छात्राओं के लिए 200 करोड़ का छात्रावास बनना है। समस्त देश व दुनिया में पाटीदार समाज अपने सकारात्मक कार्य तथा व्यापार वह मेधा के कारण चर्चा में है। वाइब्रेंट गुजरात के जरिए मोदी जी ने गुजरात का विकास किया, वैसे ही ग्लोबल पाटीदार इन्वेस्टर्स समिट के जरिए पाटीदार समाज देश में दुनिया के पाटीदार समाज को एक प्लेटफार्म प्रदान कर रहा है। प्रधानमंत्री ने समाज के इस प्रयास की सराहना की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अहमदाबाद के सरदारधाम भवन का उद्घाटन किया। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया और पुरुषोत्तम रूपाला के साथ-साथ सरदारधाम के दानदाता और ट्रस्टी भी मौजूद हैं। प्रदेश अध्यक्ष सी आर पाटिल, पूर्व सांसद एवं औड़ा के पूर्व चेयरमैन सुरेंद्र पटेल आदि नेता भी समारोह में उपस्थित रहे।

वैष्णोदेवी सर्कल के करीब अहमदाबाद-गांधीनगर सीमा क्षेत्र में स्थित 11,672 वर्ग फुट के क्षेत्र में निर्मित सरदारधाम भवन के पहले चरण का निर्माण 200 करोड़ रुपये की लागत से किया गया था। इस भवन का निर्माण विश्व पाटीदार समाज (वीपीएस) ने देश के सामाजिक, शैक्षिक और आर्थिक विकास पर ध्यान देते हुए किया था। यहां 1,600 छात्रों व उम्मीदवारों के लिए आवासीय सुविधाएं, ई-लाइब्रेरी जिसमें 1,000 कंप्यूटर सिस्टम, व्यायामशाला और स्वास्थ्य देखभाल यूनिट, सभागार, मल्टीपरपज हाल, लाइब्रेरी, उच्‍च तकनीक की सुविधाओं वाली कक्षाएं, इनडोर खेल और अन्य सुविधाएं हैं। 50 लग्‍जरी रूम के साथ ही व्यापार और राजनीतिक समूह के लिए अन्य सुविधाएं उपलब्‍ध करवायी जाएगी। सरदारधाम परियोजना के दूसरे चरण के अंतर्गत 200 करोड़ रुपये की लागत से अब यहां 2,000 छात्राओं के लिए छात्रावास का निर्माण किया जाएगा।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें