दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी लखीमपुर खीरी में घटनास्थल पर बनाएगी स्थाई स्मारक

खास ख़बरें

नई दिल्ली, 12 अक्टूबर (वेब वार्ता)। लखीमपुर खीरी के पांच शहीदों की अंतिम अरदास को समर्पित हुए श्रद्धांजलि समागम में आज यह बड़ा ऐलान किया गया कि दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी द्वारा जिस स्थान पर यह कत्लेआम हुआ वहां जगह खरीद कर एक स्थाई स्मारक का निर्माण करवाएगी। श्रद्धांजलि समागम में शामिल होने पहुंचे कमेटी के अध्यक्ष स. मनजिंदर सिंह सिरसा द्वारा आज संयुक्त मोर्चे व स्थानीय संत महापुरूषों के साथ विचार विमर्श कर इस सम्बंध में फैसला लिया गया तथा समागम में संयुक्त किसान मोर्चे के नेता डॉ. दर्शनपाल ने स्वंय यह ऐलान संगत के समक्ष किया।

इस बारे में स. सिरसा ने कहा कि आज कमेटी की टीम पांच शहीदों लवप्रीत सिंह, नच्छत्तर सिंह, गुरविंदर सिंह, दलजीत सिंह व पत्रकार रमन कश्यप के श्रद्धांजलि समागम में शामिल होने के लिए पहुँची थी। एक ही कमेटी ने आज संयुक्त किसान मोर्चे और यहां के संत समाज के साथ बैठ कर यह फैसला किया है कि जहां यह कत्लेाअम किया, वहां जगह खरीद कर स्मारक का निर्माण करवाया जाए। उन्होंने कहा कि यह स्मारक आने वाले समय में सरकारों व भावी पीढ़ी को स्मर्ण दिलाएगा कि जब सरकार ने हम पर जुल्म ढहाया तो हम डरे नहीं और झुके नहीं बल्कि स्मृति के रूप में इस जुल्म की निशानी को संभाला है। उन्होंने आगे कहा कि कमेटी द्वारा जल्द से जल्द यह कत्लेआम वाली जगह पर ज़मीन खरीदी जाएगी और इस स्मृति का निर्माण किया जाएगा जो सरकार के अत्याचार को भी बयाँ करेगी। इस मौके पर लखीमपुर खीरी पहुंचे प्रतिनिधिमंडल में स. सिरसा के अलावा सरवजीत सिंह विरक, भुपिंदर सिंह भुल्लर, आत्मा सिंह लुबाणा, रमिंदर सिंह स्वीटा, बीबी रणजीत कौर, हरजीत सिंह पप्पा, रमनदीप सिंह थापर, कश्मीर सिंह, मलकीत सिंह व गुरप्रीत सिंह जस्सा भी शामिल रहे।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें