तालिबान समर्थक जातिवादी-वंशवादी मानसिकता को प्रदेश की जनता कत्तई बर्दाश्त न करे : योगी

खास ख़बरें

कुशीनगर को मुख्यमंत्री योगी ने दी 421 करोड़ की विकास योजनाओं की सौगात

कुशीनगर, 12 सितंबर (ममता तिवारी)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को जनपद कुशीनगर को 421 करोड़ की विकास योजनाओं की सौगात दी। उन्होंने कहा कि कुशीनगर एयरपोर्ट से उड़ान शुरू होते ही दुनिया के 14 देशों से सैलानी यहां जब आने लगेंगे तब इसका स्वरूप देखने लायक होगा। मुख्यमंत्री जिले के कप्तानगंज में एक जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने राजकीय मेडिकल कॉलेज समेत 310.44 करोड़ की अन्य 96 विकास परियोजनाओं का शिलान्यास व 14.17 करोड़ की 11 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया।

योगी बोले, गरीबों का राशन हजम कर जाते थे ‘अब्बा जान’ :

उन्होंने कहा कि वर्ष 2017 से पहले हर गरीब को मिलने वाला राशन क्यों नहीं मिल पाता था? क्योंकि तब ‘अब्बा जान’ बोलने वाले गरीबों का राशन हजम कर जाते थे। आज गरीबों का राशन कोई नहीं निगल सकता। अगर निगला तो जेल जरूर जाएगा। यह भी कहा कि राम भक्तों पर गोली चलाने वाली तालिबान समर्थक जातिवादी-वंशवादी मानसिकता को प्रदेश की जनता कत्तई बर्दाश्त न करे। याद रखिएगा! बिच्छू कहीं भी होगा तो डंसेगा।

कुशीनगर विकास का अंतर्राष्ट्रीय मॉडल बनेगा

उन्होंने कहा कि कुशीनगर के साथ ही प्रदेश के सभी जिलों में मेडिकल कालेज का निर्माण होगा। जल्द ही प्रदेश के 90 हजार नौजवानों को नौकरी मिलेगी, इसकी तैयारी पूरी हो गई है। उन्होंने कहा कि विकास से ही हर व्यक्ति के कल्याण का मार्ग प्रशस्त होता है। उन्होंने कहा कि भाजपा को छोड़कर किसी भी दल कुशीनगर को महत्व नहीं दिया। राजनैतिक कारणों से घोषणाएं तो होती थीं, लेकिन वह पूरी नहीं हो पाती थी। ठेके-पट्टे, भाई-भतीजावाद, जातिवाद के चंगुल में फंस कर रह जाती थी। जिसका खामियाजा जनता को भुगतना पड़ता था। उन्होंने कहा कि जनपद को मिली परियोजनाएं यह साबित करती हैं कि कुशीनगर भी किसी जिले से पीछे नहीं रहेगा, बल्कि विकास का अंतर्राष्ट्रीय मॉडल बनेगा। कुशीनगर एयरपोर्ट से इसकी शुरुआत हो चुकी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले पूर्वी उप्र में बीमारी थी। इंसेफेलाइटिस, मलेरिया, डेंगू और तमाम अन्य प्रकार की बीमारियों से मौतें होती थीं। उपचार का कोई माध्यम नहीं था। अकेले गोरखपुर में मेडिकल कालेज एक जर्जर कालेज बन कर रह गया था। लोगों को इलाज के लिए लखनऊ, दिल्ली और मुम्बई जाना पड़ता था। आज आप देख रहे होंगे लगभग हर जिले में मेडिकल कालेज बनाने के प्रयास में सरकार है। एम्स भी गोरखपुर में बन कर तैयार है। शीघ्र ही एम्स का उद्घाटन प्रधानमंत्री के हाथों होने जा रहा है। देवरिया, कुशीनगर, सिद्धार्थनगर में मेडिकल कालेज बन रहा है। बस्ती में मेडिकल कालेज को प्रारंभ कर दिया गया है। यह पर एमबीबीएस प्रवेश शुरू हो चुका है। सरकार नई नीति लेकर आ रही है। इसके तहत 75 जिलों में मेडिकल कालेज (पीपीपी मोड) खोलने जा रहा है। उत्तम स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए सरकार कार्य कर रही है। संतकबीर नगर में भी मेडिकल कालेज खुलेगा।

योगी ने कहा कि पूरे देश में कोरोना महामारी आई है। उप्र में कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण किया गया है। मैं उन सभी कोरोना वारियर, जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों का अभिनंदन करूंगा। कल्पना करिए यदि सपा, बसपा और कांग्रेस में यह महामारी आती तो क्या होता। केरल, महाराष्ट्र और दिल्ली में किस तरह से महामारी फैल रही है, उप्र में होता तो क्या होता। जिन लोगों ने अपने परिवार के लोगों को खोया है उनके प्रति मेरी संवेदना है। जो बच्चे निराश्रित हुए उन बच्चों को पढ़ाई के लिए चार हजार रुपये दिए जा रहे हैं। जो महिलाएं निराश्रित हुए हैं सरकार उनकी व्यवस्था में भी लगी है।

उन्होंने कहा कि जनपद में जिन परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया है, उसमें जेल भी है। इसके लिए लोगों को बस्ती जाना पड़ता था। हम लोगों को सुधरने का मौका देंगे। जेल अपराधियों के लिए मौज-मस्ती का केंद्र नहीं बनना चाहिए। योगी ने कहा कि प्रदेश में श्रम सस्ता है, यहां हम उसे बेहतर तरीके से आगे बढ़ा सकते हैं। जितना जल संसाधन अपने पास है उसका हम इस्तेमाल खेती से लेकर अन्य कार्यों में कर सकते हैं। स्वयं सहायता समूह बेहतर कार्य कर सकती है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि साढ़े चार साल पहले प्रदेश में ऐसी सरकार थीं जो वह केवल भाई-भतीजावाद की सरकार थी। तुष्टीकरण के नाम पर आपके हक पर डकैती डालने का कार्य करती थी। गुंडागर्दी और दंगा प्रदेश की पहचान बन चुका था। नौजवानों की नौकरी को नीलाम कर दिया जाता था। गरीबों के पेट में जाने वाले निवाले में डकैती डाल देते थे। आज नौजवान सरकारी नौकरी पा रहा है। पुलिस की भर्ती में बीस फीसद महिला पुलिसकर्मी भर्ती होनी चाहिए। आज तीस हजार महिला पुलिस अधिकारी प्रदेश में हैं, जो महिला सशक्तीकरण से जुड़कर हर बालिका, बेटी और बहन को सुरक्षा की गारंटी दे रही हैं। मिशन शक्ति कार्यक्रम गांव-गांव तक पहुंच रहा है। वहां पर महिला बूथ बनाकर महिलाओं से जुड़ी योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए जागरूकता फैला रही है। कन्या सुमंगल योजना, सामूहिक विवाह की योजना, निराश्रित महिला पेंशन योजना का लाभ भी उनके द्वारा किया जा रहा है।

योगी ने कहा कि हमने लाखों नौकरी दी। 90 हजार नौकरियां आ रही है। योग्यता के आधार पर सरकार सभी को नौकरी दे रही है। उन्हें नियुक्ति पत्र दे रही है। इसके पूर्व सभा को प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, सांसद विजय दुबे, जिलाध्यक्ष प्रेमचन्द मिश्र, गो सेवा आयोग के उपाध्यक्ष अतुल सिंह, विधायक पवन केडिया, जटाशंकर त्रिपाठी आदि ने सम्बोधित किया। इस अवसर पर विधायक खड्डा जटाशंकर त्रिपाठी, पडरौना नगर पालिका परिषद के चेयरमैन विनय जायसवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष सावित्री जायसवाल, दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री राजेश्वर सिंह, लाल बाबू वाल्मीकि, ब्लॉक प्रमुख विशाल समेत अन्य जनप्रतिनिधिगण मौजूद थे।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें