जनता को इंतजार है क्या यहां भी बिजली मंत्री चढ़ेंगे खम्बे पर?

खास ख़बरें

लापरवाह विभागीय अधिकारी नहीं उठाते फोन

ग्वालियर/भिण्ड, 10 सितंबर। प्रदेश में बिजली विभाग का क्या हाल है ये इस बात से जाहिर होता है कि ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न तोमर सिंह को अपने ग्रह/विधानसभा क्षेत्र में बिजली समस्या को लेकर खम्बे पर चढ़कर सुलझाना पड़ता है। पर क्या हर जगह मंत्री जी खम्बे पर चढ़ेंगे? म.प्र मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कर्मचारियों में सरकार का भय विल्कुल नजर नहीं आ रहा है? या यूं कहें कि उनके नाकारापन कूट कूट कर भरा है! हाल ही में मंत्री जी के वीडियो फोटो और खबरें विद्युत ट्रांसफर पर चढ़ी बेल पत्तो और घास को काटते हुये खूब वायरल हुए किन्तु इन्हें देख कर भी हमारे लहार डिवीजन के विद्युत कर्मचारियों ने सबक नहीं लिया या लेना नही चाहते हैं? ये मामला जिले के लहार डिवीजन के दबोह कस्बा के खजूरी मार्ग का है। यहां भी ट्रांसफर से लेकर 11000 केवि की लाइनों तक बेल पत्तों व झाड़ झखड़ ने अपनी पहुंच बना ली है मेंटीनेंस के नाम पर अघोषित कटौती आम बात हो चुकी है अधिकारियों का फोन न उठाना विद्युत पोलों में करंट दौड़ना एक आम समस्या बन गई है करंट से पिछले महीनों में कई गायों की मौत होने के मामले सामने आ चुके हैं किंतु यहाँ के जिम्मेदार अधिकारी व कर्मचारियों द्वारा कोई सबक नही लिया जा रहा है अब तो सूबे की सरकार से यही गुहार है कि यहाँ कर्मचारी निकम्मे है इसलिये हमें भी ऊर्जा मंत्री की दरकार है। खबर में प्रकाशित तस्वीर कस्बा दबोह के खजूरी मार्ग स्तिथ विद्युत पोल की है दुर्घटना को आमंत्रण देती यह लापरवाही किसी बड़े हादसे का सवब बन सकती है अभी लहार नगर में ट्रांसफार्मरों आग लगने की घटना घटित हो चुकी है किंतु फिर भी हादसे सबक न लेना घोर लापरवाही को दर्शाता है। विभाग के जूनियर इंजीनियर राजपूत का मोबाइल हमेशा बंद रहता है यहांतक कि डीई लहार भी आम आदमी का फोन उठाना उचित नहीं समझते।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें