चीन की घुसपैठ पर जवाब दें मोदी : कांग्रेस

खास ख़बरें

नई दिल्ली, 12 अक्टूबर (वेब वार्ता)। कांग्रेस ने कहा है कि चीन भारत की सीमा में घुस चुका है और कोर कमांडर स्तर की बैठक में उसने वापस जाने से मना कर दिया है इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश की जनता को इस संकट के समाधान के लिए उठाये जा रहे कदमों की जानकारी देनी चाहिए। कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने मंगलवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि चीन लद्दाख, हिमाचल, उत्तराखंड, सिक्किम, अरुणाचल में भारतीय सीमा में घुसपैठ कर रहा है। देश के सैनिक जिस सीमा पर गश्त लगाते थे, वह अब नहीं हो रही है और चीन के साथ 13वें दौर की कोर कमांडर बैठक में भारत के कमांडरों ने चीन की मंशा को ठुकरा दिया, इसीलिए बातचीत के कोई परिणाम नहीं निकले। उन्होंने कहा कि चीन के साथ अब तक जो भी समझौते भारत सरकार की तरफ से हुए हैं, वे सब गैरबराबरी के हैं। चीन और दुनिया की समझ में आ गया है कि भारत में एक ऐसा प्रधानमंत्री है जिनको देश की सीमाओं की सुरक्षा से ज्यादा अपनी कृत्रिम छवि को बनाए रखने की चिंता है। प्रधानमंत्री और उनके मंत्रियों को खासकर विदेश नीति को लेकर नपीतुली बात कहनी चाहिए। प्रवक्ता ने कहा कि 13वें दौर की कोर कमांडर स्तर की बातचीत में चीन पीछे हटने को तैयार नहीं है और उसने डेप्सांग मैदान और हॉट स्प्रिंग से पीछे हटने से इनकार कर दिया है। उनका कहना था कि भारतीय सेना ने अपने शौर्य के बल पर जो कुछ हासिल किया था उसे मोदी सरकार ने गंवा दिया है। वर्ष 2020 तक जहां हमारी गश्त होती थी अब वहां नहीं हो रही है। यह सब सेना के पराक्रम की कमी के कारण नहीं बल्कि राजनीतिक इच्छा शक्ति की कमी का परिणाम है। चीन ने कह दिया है कि हम पीछे नहीं हटेंगे। इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस मुद्दे पर श्री मोदी पर हमला करते हुए उनसे पूछा ‘मिस्टर 56’ लाल आँख क्यों नहीं दिखा देते।” उन्होंने इस ट्वीट के साथ एक अखबार की कटिंग भी पोस्ट की है जिसमें कहा गया है कि चीन 13वें दौर की बातचीत के बाद वापस लौटने को तैयार नहीं है।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें