गैंगस्टर बेटे पर कार्रवाई, सदमे से मां की मौत, आक्रोशित परिजनों ने सड़क पर शव रख लगाया जाम

खास ख़बरें

आगरा, 09 सितंबर (वेब वार्ता)। आगरा में गैंगस्टर एक्ट के तहत जेल भेजे गए बलकेश्वर के न्यू आदर्श नगर निवासी दवा माफिया संजीव कुमार गुप्ता की माता प्रेमलता गुप्ता (77 वर्ष) की गुरुवार सुबह हृदयाघात आने से मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि पुलिस ने बुधवार को गैंगस्टर एक्ट में कार्रवाई करते हुए मकान पर सील लगाई थी। जबकि मकान संजीव के नाम ना होकर पिता के नाम पर था। मां ने पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों से कई बार गुहार लगाई, लेकिन सुनवाई नहीं हुई।

प्रशासन की टीम ने घर में एक कमरे पर ताला लगा दिया। इसके बाद फिर सील लगाई गई। घर खाली करने के लिए 24 घंटे का समय दिया गया था। परिजनों ने पुलिस पर कार्रवाई से पहले 10 लाख रुपये रिश्वत मांगने का भी आरोप लगाया है। आक्रोशित परिजनों ने वाटर वर्क्स चौराहे पर शव रखकर जाम लगा दिया और पुलिस के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया।

मृतका के बेटे अतुल गुप्ता का कहना है कि पुलिस की कार्रवाई के बाद मां सदमा बर्दाश्त नहीं कर सकी। जब तक पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती है, वह अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। दोपहर को मृतक के परिजन और व्यापारी मृतका के शव लेकर वाटर वर्क्स चौराहे पर पहुंचे। यहां बीच सड़क पर उनका शव रख दिया। इससे सड़क पर जाम लग गया। सूचना पर फोर्स के साथ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।

अखिल भारतीय माथुर वैश्य महासभा के पदाधिकारियों ने भी कार्रवाई पर सवाल उठाए हैं। पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने और दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है। एसएसपी मुनीराज जी. का कहना है कि जो भी कार्रवाई की गई है, वह नियमानुसार की गई है। परिवार के लोगों को अगर कोई शिकायत है तो वह अपनी बात रख सकते हैं।

नशे की दवाओं की कालाबाजारी करने वाले जयपुरिया गैंग के खिलाफ संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई करने के बाद पुलिस ने आरोपी संजीव कुमार गुप्ता और किशन कुमार अग्रवाल को गिरफ्तार किया था। दोनों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट का मुकदमा दर्ज हुआ था। बुधवार को दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें