कृषि कानून के एक साल पूरे होने पर शिरोमणि अकाली का प्रदर्शन, हरसिमरत कौर ने कहा: सरकार ने किसानों के साथ किया विश्वासघात

खास ख़बरें

नई दिल्ली, 17 सितंबर (वेब वार्ता)। कृषि कानून के एक साल पूरे होने पर राजधानी में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने दिल्ली के रकाबगंज रोड पर अपना विरोध प्रदर्शन ( ब्लैक फ्राइडे प्रोटेस्ट मॉर्च) शुरू कर दिया है।

शिअद प्रमुख सुखबीर बादल और पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के नेतृत्व में शिरोमणि अकाली दल का यह विरोध मार्च गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब रोड से संसद भवन की ओर निकाला जा रहा है, लेकिन फिलहाल प्रदर्शनकारी सड़क पर ही बैठे हुए हैं।

फिलहाल प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने भी सुरक्षा बढ़ा दी है। दिल्ली के विभिन्न स्थानों पर दिल्ली पुलिस ने बेरिगेट लगाकर रास्ते बंद कर रखे हैं। प्रदर्शनकारियों ने कानून को वापसी करने की मांग की वहीं केंद्र के खिलाफ नारेबाजी भी की। दूसरी ओर दिल्ली पुलिस के अनुसार, विरोध प्रदर्शन के लिए कोई इजाजत नहीं दी गई है।

प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली मेट्रो रेल कॉपोर्रेशन ने ट्वीट कर बताया है कि पंडित श्रीराम शर्मा और बहादुरगढ़ सिटी के एंट्री/एग्जिट गेट बंद कर दिए गए हैं।

इस दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर ने कहा कि, मैं शुक्रिया अदा करना चाहती हूं, हम सच की लड़ाई के लिए इतने लोग हमारे साथ आये हैं। सरकार कहती थी सबका साथ सबका विश्वास, लेकिन उन्होंने किसानों के साथ विश्वास घात किया है।

उन्होंने कहा, लगातार एक साल हम इस लड़ाई को लड़ते रहे। वो नौजवानों , अपनी बहनों का शुक्रिया करेंगी जिन्होंने इस लड़ाई में उन्होंने पूरा साथ दिया। एक साल निकल गया यदि यह कानून वापस नहीं हुए तो 2024 दूर नहीं है।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें