अखिलेश का ‘विजय रथ यात्रा’ से भाजपा पर वार, बुंदेलखंड की जनता वोटों पर चलाएगी बुलडोजर

खास ख़बरें

हमीरपुर (उप्र), 13 अक्टूबर (वेब वार्ता)। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि बुंदेलखंड की जनता भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ इतने वोट डालेगी कि इनके वोटों पर बुलडोजर चल जाएगा।

‘समाजवादी विजय रथ’ से यात्रा पर निकले यादव मंगलवार को दूसरे दिन हमीरपुर में जनता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था ‘लेकिन आय तो दोगुनी नहीं हुई, मंहगाई जरूर दोगुनी हो गई।’

यादव ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा, ‘हमारे बाबा मुख्यमंत्री को दो चीजें पसंद हैं-एक बुल और दूसरा बुलडोजर। पिछली बार बुलडोजर की कमान इनके हाथों में दे दी गई थी लेकिन इस बार बुंदेलखंड की जनता ने तय कर लिया है कि बुलडोजर का स्टेरिंग वह अपने हाथ में रखेगी और भाजपा के खिलाफ इतने वोट डालेगी कि इनके वोटों पर बुलडोजर चल जायेगा।’

समझा जाता है कि बुल से यादव का अभिप्राय उन आवारा पशुओं से था जो किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं और बुलडोजर से उनका मतलब प्रदेश सरकार द्वारा अवैध संपत्ति पर बुलडोजर चलाने से था।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अगले वर्ष की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले लोगों तक पहुंचने और उनका समर्थन हासिल करने की मंशा से मंगलवार को कानपुर से ‘समाजवादी विजय यात्रा’ की शुरुआत की थी। अपनी यात्रा के दूसरे दिन वह कानपुर देहात होते हुये हमीरपुर पहुंचे। यह यात्रा एक विशेष बस से शुरू हुई, जिसका नाम पार्टी ने विजय रथ रखा है। कानपुर से शुरू हुई यात्रा पहले दो दिनों में (12-13 अक्टूबर) पहले चरण के तहत कानपुर देहात, जालौन और हमीरपुर जिलों में जाएगी।

‘विजय रथ’ पर सवार यादव ने कहा, ‘ बुंदेलखंड की जनता ने भाजपा को बहुमत दिया लेकिन उसने आपके बहुमत का मजाक उड़ाया, आपके बहुमत को धोखा देने का काम किया है। भाजपा ने आपको मंहगाई दी, बेरोजगारी दी और बिजली के बिल मंहगे कर दिए।’

उन्होंने कहा कि पिछले चुनाव में बुंदेलखंड की जनता जितना समर्थन कर सकती थी उसने भाजपा का उतन समर्थन किया। यहां की जनता ने भाजपा के अलावा एक भी सीट किसी को नहीं जीतने दी लेकिन भाजपा ने उस बहुमत का मजाक उड़ाया है।

जातीय जनगणना के मुद्दे पर सपा नेता ने कहा, ‘आने वाले समय में संघर्ष दूसरे प्रकार का है। भाजपा पिछड़ों, दलितों को उनका हक नहीं देना चाहती, जातिगत जनगणना नहीं कराना चाहती। हम कहते हैं सब को उनका हक देना चाहिए, यही संविधान में लिखा है।’

कृषि कानून पर सरकार पर निशाना साधते हुये पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘ याद रखिए एक कानून से ईस्ट इंडिया कंपनी भारत में सरकार बन गई थी, और जो यह किसान विरोधी कानून लाया जा रहा है, अगर वह लागू हो गया तो किसान अपने खेत में मजदूर बन जाएगा। भाजपा ने किसान आंदोलन को खत्म करने के लिए गाड़ी में बैठकर किसानों को कुचल दिया। अगर यह तीन कृषि कानून पारित हुए तो हमारे और आपके खेत छिन जाएंगे।’

सरकार द्वारा बनाए जा रहे रक्षा गलियारे पर सवाल उठाते हुये सपा अध्यक्ष ने कहा, ‘ इन्होंने आपसे रक्षा फैक्टरी लगाने का, रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन कहीं कोई फैक्टरी लगी या किसी को रोजगार मिला? यह रक्षा गलियारा दिवाली के फुस्स सुतली बम की तरह निकला।’ कानपुर देहात से निकली समाजवादी पार्टी की विजय रथा यात्रा का जगह-जगह पर स्वागत किया गया।

- Advertisement -

संबंधित ख़बरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें